राहत इंदौरी की ग़ज़लें, Best Shayari Of Dr Rahat Indori, Hindi Shayari, shareae, हिंदी स्टेटस,

राहत इंदौरी की ग़ज़लें, Best Shayari Of Dr Rahat Indori, Hindi Shayari, shareae, हिंदी स्टेटस,


राहत इंदौरी की ग़ज़लें, Best Shayari Of Dr Rahat Indori, Hindi Shayari, shareae, हिंदी स्टेटस

राहत इंदौरी सबसे प्रसिद्ध सेलिब्रिटी उर्दू कवि और एक बॉलीवुड गीतकार हैं। इसके पहले वे इंदौर विश्वविद्यालय में उर्दू साहित्य के शिक्षाविद थे। राहत इंदौरी अपनी काव्य प्रतिभा के लिए दुनिया भर में अपने लाखों प्रशंसकों के बीच बहुत प्रसिद्ध और चहेते हैं और ऐशआर्स को प्रस्तुत करने की एक बहुत ही अजीब शैली है। उन्होंने 1972 में 19 साल की उम्र में अपनी पहली कविता का पाठ किया। कविता में आने से पहले, वे एक चित्रकार हुआ करते थे और यहां तक कि एक व्यावसायिक स्तर पर पेंटिंग भी शुरू करते थे। वह बॉलीवुड फिल्म के पोस्टर और बैनर पेंट करते थे। वह किताबों के कवर को आज भी डिजाइन करते हैं। उनके गीतों का अब तक 13 से अधिक बॉलीवुड फिल्मों में उपयोग किया गया है, जिसमें ब्लॉकबस्टर मुन्नाभाई एमबीबीएस भी शामिल है। वह मुशायरा की एक विश्व स्तर पर जानी मानी हस्ती हैं, और ग़ज़ल सुनाने का एक अनोखा तरीका पेश करती हैं, जो अपने आप में काफी महत्वपूर्ण है।

एक स्थान पर अपनी उत्कृष्ट कृतियों को प्रस्तुत करना मुश्किल है, फिर भी हमने आपको उनके सबसे भावपूर्ण दोहे प्रस्तुत करने का प्रयास किया है:

राहत इंदौरी की ग़ज़लें


राहत इंदौरी की ग़ज़लें

#1

Aankhon mein paani rakho
Hothon pe chingaari rakho
Jnda rahna hai to
tarkeebe bahut saari rakho

** Rahat Indori Best Ghazal **

#2

Maine apni khushk aankhon se lahu
chhalka diya
ik samundar keh raha tha mujh ko
paani chahiye

** Hindi Shayari, Hindi Status, Hindi SMS **

#3

Mujhe vo chhod gaya ye
Kamal hai us ka
Iraada maine kiya tha ki
Chhod dunga use

** Shayari , shareae **

#4

Main aakhir kaun sa mausam
Tumhare naam kar deta
Yahan har ek mausam ko
Guzar jaane ki jaldi thi

** love shayari in english **

#5

Roz parrhar ki himayat me ghazal
Likhte hain
Roz sheeshon se koi kaam nikal
Padta hai

** shayari attitude **

#6

Mai laakh keh du ki akaash hun
Zameen hun mai
Magar use to khabar hai ki kuchh
Nahin hun mai

** dil love shayari **

#7

naye kirdaar aate jaa rahe hain
magar naatak purana
chal raha hai

** love shayari in hindi for girlfriend **

#8

raat ki dhadkan jab tak jari rehti hai
sote nahi hum zimmedari  rehti hai
jab se tune halki halki batein ki
yaar tabiyat bhari rehti hai

** gajab shayari **

#9

maza chakha ke hi maana hun
main bhi duniya ko

** shayari dosti **

#10

samajh rahi thi ki aise hi
chhod doonga use


#11

zubaan to khol nazar to mila
jawaab to de
mai kitni baar luta hoon
mujhe hisaab to de

** shayari sad **

#12

shaakhon se toot jaaye
wo patte nahi hain hum
aandhi se koi kah de
ki aukaat me rahe



#13

sabab vo puchh rahe hai udaas hone ka
mira miaaj nahi be libas hone ka
naya bahana hai har pal udaas hone ka
ye fayeda ai tire ghar ke paas hone ka



#14

log har mod pe ruk-ruk ke
sambhalte kyun hain
itna darte hain to phir
ghar se nikalte kyun hain



#15

hausle zindagi ke dekhte hain
chaliye kuch roz jee ke dekhte hain
neend pichhli sadi ki zakhmi hai
khwaab agli sadi ke dekhte hain



#16

samandaron se dafar mein
hawaa chalaata hai
jahaaz khud nahin chalte
khuda chalaata hai


#17

ek hi nadi ke hai
ye do kinare dosto
dostana zindagi se
maut se yaari rakho


#18

us ki yaad aayi hai saanso zara
aahista chalo
dhadkano se bhi ibaadat me
khalal padta hai



#19

chehron ke liye aayinekurbaan
kiye hain
iss shauk mein apne bade nuksaan
kiye hain



#20

dilon me aag labon par gulaab
rakhte hain
sab apne chehro pe dohri naqab
rakhte hain



#21

main woh dariya hun ke
har boond bhanwar hai jiski
tumne achha hi kiya hai
mujhe kinaara karke


#22

foonk dalunga kisi roj
main dil ki duniya yeh tera khat to nhi
ke jala bhi na sakun


#23

zameen par aa gaye aankhon se
toot kar aansu
buri khabar hai farishte
khatayen karne lage


#24

baithi baithi koi khayal aaya
zinda rahne ka phir savaal aaya
kaun dariyaon ka hisab rakhe
nekiyaan nekiyon me daal aaya,,,,


#25

अब ना मैं हूँ, ना बाकी हैं ज़माने मेरे,
फिर भी मशहूर हैं शहरों में फ़साने मेरे,
ज़िन्दगी है तो नए ज़ख्म भी लग जाएंगे,
अब भी बाकी हैं कई दोस्त पुराने मेरे।


#26

Roj Taaron Ki Numaaish Mein Khalal Padta Hai,
Chand Pagal Hai Andhere Mein Nikal Padta Hai,
Roj Patthar Ki Himayat Mein Ghazal Likhte Hain,
Roj Sheeshon Se Koi Kaam Nikal Padta Hai.

रोज़ तारों को नुमाइश में ख़लल पड़ता है,
चाँद पागल है अँधेरे में निकल पड़ता है,
रोज़ पत्थर की हिमायत में ग़ज़ल लिखते हैं,
रोज़ शीशों से कोई काम निकल पड़ता है।

#26

Haath Khali Hain Tere Shehar Se Jaate-Jaate,
Jaan Hoti Toh Meri Jaan Lutate Jaate,
Ab Toh Har Haath Ka Pathar Humein Pehchanta Hai,
Umar Gujri Hai Tere Shehar Mein Aate Jaate.

हाथ खाली हैं तेरे शहर से जाते-जाते,
जान होती तो मेरी जान लुटाते जाते,
अब तो हर हाथ का पत्थर हमें पहचानता है,
उम्र गुजरी है तेरे शहर में आते जाते।


#27

Use Ab Ke Wafaon Se Gujar Jaane Ki Jaldi Thi,
Magar Iss Baar Mujhko Apne Ghar Jaane Ki Jaldi Thi,
Main Aakhir Kaun Sa Mausam Tumhare Naam Kar Deta,
Yehan Har Ek Mausam Ko Gujar Jaane Ki Jaldi Thi.

उसे अब के वफ़ाओं से गुजर जाने की जल्दी थी,
मगर इस बार मुझ को अपने घर जाने की जल्दी थी,
मैं आखिर कौन सा मौसम तुम्हारे नाम कर देता,
यहाँ हर एक मौसम को गुजर जाने की जल्दी थी।

#28

इश्क में पीट के आने के लिए काफी हूँ
मैं निहत्था ही ज़माने  के लिए काफी हूँ
हर हकीकत को मेरी, खाक समझने वाले
मैं तेरी नींद उड़ाने के लिए काफी हूँ
एक अख़बार हूँ, औकात ही क्या मेरी
मगर शहर में आग लगाने के लिए काफी हूँ


#29

दिलों में आग, लबों पर गुलाब रखते हैं
सब अपने चहेरों पर, दोहरी नकाब रखते हैं
हमें चराग समझ कर भुझा ना पाओगे
हम अपने घर में कई आफ़ताब रखते हैं


#30

राज़ जो कुछ हो इशारों में बता देना
हाथ जब उससे मिलाओ दबा भी देना
नशा वेसे तो बुरी शे है, मगर
राहत”  से सुननी  हो तो थोड़ी सी पिला भी देना


#31

ये हादसा तो किसी दिन गुजरने वाला था
में बच भी जाता तो मरने वाला था
मेरा नसीब मेरे हाथ कट गए
वरना में तेरी मांग में सिन्दूर भरने वाला था


#32

दोस्ती जब किसी से की जाये
दुश्मनों की भी राय ली जाए
बोतलें खोल के तो पि बरसों
आज दिल खोल के पि जाए


#33

यही ईमान लिखते हैं, यही ईमान पढ़ते हैं
हमें कुछ और मत पढवाओ, हम कुरान  पढ़ते हैं
यहीं के सारे मंजर हैं, यहीं के सारे मौसम हैं
वो अंधे हैं, जो इन आँखों में पाकिस्तान पढ़ते हैं


#34

इस दुनिया ने मेरी वफ़ा का कितना ऊँचा  मोल दिया
बातों के तेजाब में, मेरे मन का अमृत घोल दिया
जब भी कोई इनाम मिला हैं, मेरा नाम तक भूल गए
जब भी कोई इलज़ाम लगा हैं, मुझ पर लाकर ढोल दिया


#35

रोज़ तारों को नुमाइश में खलल पड़ता हैं
चाँद पागल हैं अन्धेरें में निकल पड़ता हैं
उसकी याद आई हैं सांसों, जरा धीरे चलो
धडकनों से भी इबादत में खलल पड़ता हैं


#36

जवान आँखों के जुगनू चमक रहे होंगे
अब अपने गाँव में अमरुद पक रहे होंगे
भुलादे मुझको मगर, मेरी उंगलियों के निशान
तेरे बदन पे अभी तक चमक रहे होंगे


#37

आग के पास कभी मोम को लाकर देखूं
हो इज़ाज़त तो तुझे हाथ लगाकर देखूं
दिल का मंदिर बड़ा वीरान नज़र आता है
सोचता हूँ तेरी तस्वीर लगाकर देखूं


#38

हाथ ख़ाली हैं तेरे शहर से जाते जाते
जान होती तो मेरी जान लुटाते जाते
अब तो हर हाथ का पत्थर हमें पहचानता है
उम्र गुज़री है तेरे शहर में आते जाते


#39

तूफ़ानों से आँख मिलाओ, सैलाबों पर वार करो
मल्लाहों का चक्कर छोड़ो, तैर के दरिया पार करो

ऐसी सर्दी है कि सूरज भी दुहाई मांगे
जो हो परदेस में वो किससे रज़ाई मांगे


#40

कही अकेले में मिलकर झंझोड़ दूँगा
उसे जहाँ जहाँ से वो टूटा है
जोड़ दूँगा उसे मुझे वो छोड़ गया
ये कमाल है उस का इरादा मैंने किया था की छोड़ दूँगा उसे।


#41


मैंने दिल दे कर उसे की थी वफ़ा की इब्तिदा 

उसने धोखा दे के ये किस्सा मुकम्मल कर दिया शहर में चर्चा है 

आख़िर ऐसी लड़की कौन है जिसने अच्छे खासे एक शायर को पागल कर दिया।



#42

हर एक हर्फ का अन्दाज बदल रक्खा है 

आज से हमने तेरा नाम ग़ज़ल रक्खा है 

मैंने शाहों की मोहब्बत का भरम तोड़ दिया 

मेरे कमरे में भी एक ताजमहल रक्खा है।


#43

us kī yaad aa.ī hai sāñso zarā āhista chalo
dhakanoñ se bhī ibādat meñ halal patā hai


#44

Ab hum makaan ke tala lagaane wale hain
Pata chala hain ki mehaman aane wale hain

अब हम मकान में ताला लगाने वाले हैं
पता चला हैं की मेहमान आने वाले हैं


#45


आँखों में पानी रखों, होंठो पे चिंगारी रखो
जिंदा रहना है तो तरकीबे बहुत सारी रखो
राह के पत्थर से बढ के, कुछ नहीं हैं मंजिलें
रास्ते आवाज़ देते हैं, सफ़र जारी रखो
Aankhon mein paani rakho, hothon pe chingaari rakho
Jinda rahna hai to tarkibe bahut saari rakho
Raha ke patthar se badh ke kuch nahi hain manjilen
Raaste aawaz dete hain safar jaari rakho

#46

जागने की भी, जगाने की भी, आदत हो जाए
काश तुझको किसी शायर से मोहब्बत हो जाए
दूर हम कितने दिन से हैं, ये कभी गौर किया
फिर कहना जो अमानत में खयानत हो जाए
Jagne ki bhi jagane ki bhi aadat ho jaye
Kash tujh ko bhi kisi shayer se mohbbt ho jaye
Door hum kitne dinno se hain ye kabhi gaur kiya
Fir na kehna jo ayanat me khayanat ho jaye

#47

सूरज, सितारे, चाँद मेरे साथ में रहें
जब तक तुम्हारे हाथ मेरे हाथ में रहें
शाखों से टूट जाए वो पत्ते नहीं हैं हम
आंधी से कोई कह दे की औकात में रहें
Suraj, sitaare, chaand mere saath me rahe
jab tak tumhare haath mere haath me rahe
Shaakhon se toot jaaye wo patte nahi hain hum
Aandhi se koi kah de ki aukaat me rahe

#48

कभी महक की तरह हम गुलों से उड़ते  हैं
कभी धुएं की तरह पर्वतों से उड़ते हैं
ये केचियाँ हमें उड़ने से खाक रोकेंगी
की हम परों से नहीं हौसलों से उड़ते हैं
Kabhi mahak ki tarah hum gulon se udate hain
kabhi dhuyen ki tarah parvaton se udate hain
Ye kechiya hume udne se khaak rokengi
Ki hum paron se nahi housalon se udate hain
*****

#49

नए सफ़र का नया इंतज़ाम कह देंगे
हवा को धुप, चरागों को शाम कह देंगे
किसी से हाथ भी छुप कर मिलाइए
वरना इसे भी मौलवी साहब हराम कह देंगे
Naye safar ka naya intzaam kah denge
Hawa ko dhup, charaagon ko shaam kah denge
Kisi se hatth bhi chhupa kar milaiye
Warna maulvi saahab ise bhi haraam kah denge

*****

#50

जवान आँखों के जुगनू चमक रहे होंगे
अब अपने गाँव में अमरुद पक रहे होंगे
भुलादे मुझको मगर, मेरी उंगलियों के निशान
तेरे बदन पे अभी तक चमक रहे होंगे
Jawaan aankhon ke jugnoo chamak rahe honge
Ab apne gaonv me amrood pak rahe honge
Bhulade mujhko magar, meri ungaliyon ke nishaan
tere badan pe abhi tak chamak rahe honge

COMMENTS

[getBlock results="5" label="funny-Shayari" type="block1"]
नाम

Ghazal,1,hindi-shayari,1,Sorry-Shayari,1,
ltr
item
Hindi Shayari, Hindi Status, Hindi SMS,Attitude shayari,Love shayari,: राहत इंदौरी की ग़ज़लें, Best Shayari Of Dr Rahat Indori, Hindi Shayari, shareae, हिंदी स्टेटस,
राहत इंदौरी की ग़ज़लें, Best Shayari Of Dr Rahat Indori, Hindi Shayari, shareae, हिंदी स्टेटस,
राहत इंदौरी की ग़ज़लें, Best Shayari Of Dr Rahat Indori, Hindi Shayari, shareae, हिंदी स्टेटस,
https://1.bp.blogspot.com/-_a1eMAKZe1c/Xt-3liwqUTI/AAAAAAAAAC0/AJauIsy1BfU38Wl7XlFBiPQlCOqjKe4CACLcBGAsYHQ/s400/S1.jpg
https://1.bp.blogspot.com/-_a1eMAKZe1c/Xt-3liwqUTI/AAAAAAAAAC0/AJauIsy1BfU38Wl7XlFBiPQlCOqjKe4CACLcBGAsYHQ/s72-c/S1.jpg
Hindi Shayari, Hindi Status, Hindi SMS,Attitude shayari,Love shayari,
https://www.sorryshayari.com/2020/06/Rahat-Indori-Best-Ghazal.html
https://www.sorryshayari.com/
https://www.sorryshayari.com/
https://www.sorryshayari.com/2020/06/Rahat-Indori-Best-Ghazal.html
true
4703620780290629189
UTF-8
Loaded All Posts Not found any posts VIEW ALL Readmore Reply Cancel reply Delete By Home PAGES POSTS View All RECOMMENDED FOR YOU LABEL ARCHIVE SEARCH ALL POSTS Not found any post match with your request Back Home Sunday Monday Tuesday Wednesday Thursday Friday Saturday Sun Mon Tue Wed Thu Fri Sat January February March April May June July August September October November December Jan Feb Mar Apr May Jun Jul Aug Sep Oct Nov Dec just now 1 minute ago $$1$$ minutes ago 1 hour ago $$1$$ hours ago Yesterday $$1$$ days ago $$1$$ weeks ago more than 5 weeks ago Followers Follow THIS PREMIUM CONTENT IS LOCKED STEP 1: Share to a social network STEP 2: Click the link on your social network Copy All Code Select All Code All codes were copied to your clipboard Can not copy the codes / texts, please press [CTRL]+[C] (or CMD+C with Mac) to copy